ब्रेकिंग न्यूज़
अन्य

बड़का मांझा, जिला सिवान के मूर्धन्य विद्वान पंडित कमलापति उपाध्याय का ब्रह्मभोज (कर्मकांड) संपन्न।

बड़का मांझा, जिला सिवान के मूर्धन्य विद्वान पंडित कमलापति उपाध्याय का ब्रह्मभोज (कर्मकांड) संपन्न

पं. कमलापति उपाध्याय का जन्म ग्राम पोस्ट बड़का मांझा जिला सिवान में सन 1928 में हुआ। उन्होंने हंथुवा राज के गुरु कुल में ज्योतिष और वेद की शिक्षा पूरी करने के बाद अपने जिले के साथ– साथ, अगल– बगल के जिलों में भी अपने कुशल पूजा–पाठ और कुंडली विश्लेषण को लेकर काफी ख्याति पाई। यू कहे तो कम नहीं होगा की बड़का मांझा में पूजा–पाठ करने वाले शायद ही कोई पंडित होगा जिसने कुछ महीने इनके पास पढ़ाई नहीं की होगी। करीब 15–20 किलोमीटर के दायरे में इनको प्रायः लोग जानते थे वैसे तो 100–150 किलो मीटर तक के भी लोग जानते थे।

पंडित कमलापति उपाध्याय ज्योतिष, कर्मकांड, जमीन नापना, तैराकी, भजन गायन, ढोलक बादन सब में अग्रणी रहे। पांच भाईयो में इनसे बड़े भाई श्री जनार्दन उपाध्याय, और छोटे भाइयों में श्री कैलाश उपाध्याय, श्री दत्तात्रेय उपाध्याय, श्री त्रिलोकी उपाध्याय सबकी मृत्यु पहले ही हो चुकी थी।

इन पांचो भाईयो से 9 लड़के और 14 नाती है दुर्भाग्य से इनके बड़े पुत्र की भी मृत्यु कुछ वर्षो पहले हो चुकी है।
भरे पुरे परिवार में बड़े होने के नाते इनका काफी प्रभाव था। कहा जाता है उपाध्याय परिवार काफी सहयोगी और मिलनसार होने के कारण इनका गांव और आस पास के इलाकों के काफी मान सम्मान है।

पंडित कमलापति उपाध्याय के मृत्यु के बाद एक बड़ा खालीपन आ गया है जो कभी भर नहीं सकता। हालाकी उनके छोटे पुत्र और नाती उनकी विधा को संभाले हुए है। लेकिन वो व्यकित्व की पूर्ति शायद बड़कमंझा में नही हो पाएगा। इनके परिवार में भाईयो के लड़के और इनका नाती इंजीनियर बन चुके है और कई नाती डाक्टरी और इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहे है। काफी समर्थ परिवार है लेकिन लोगो के बीच पं. कमलापति उपाध्याय की कमी हमेशा खलेगी, उनकी मृत्यु के बाद पूरे क्षेत्र में शोक का माहौल है।

बताते चले की मृत्यु के पश्चात गाजे– बाजे के साथ बड़ी संख्या में लोग पं. कमलापति उपाध्याय की अंत्येष्ठि में सम्मिलित हुए। ब्राह्मभोज में भी बड़ी संख्या में उनके जाननेवाले और यजमानों ने हिस्सा लिया।

संदीप उपाध्याय ब्यूरो पूर्वांचल।

संबंधित पोस्ट

राशिफल 31 जुलाई: इन 5 राशि वालों के बनेंगे अटके हुए काम, सुधरेगी आर्थिक स्थिति

Weather Update: कोरोना और त्योहारों के बीच भारी बारिश बढ़ाएगी मुसीबत, IMD का इन इलाकों में हाई अलर्ट

एंटी-चाइना सेंटीमेंट्स की 6 वजहें:जासूसी की वजह से अमेरिका ने चीन का कॉन्सुलेट बंद किया, ब्रिटेन ने 5जी नेटवर्क से चीनी कंपनी ही हटा दी, भारत ने 106 ऐप्स बैन कीं

मुंबई में ट्रेन की रफ्तार पर ब्रेक

Hindustanprahari

पेन्शन संबंधित शिकायतों का होगा वीडियोकान्फ्रेसिंग के माध्यम त्वरित निस्तारण।

Hindustanprahari

पूर्व मध्य रेलवे के चोपन स्टेशन पर नॉन इंटरलॉक कार्य किये जाने के कारण पूर्व में किये गये गाड़ियों के शार्ट टर्मिनेशन / शार्ट ओरिजिनेशन को निम्नवत बढ़ाया जा रहा है।

Hindustanprahari