ब्रेकिंग न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़ स्पोर्ट

स्टंटमैन विस्पी खराड़ी ने बनाया फिटनेस आइकॉन साहिल खान के साथ गिनीज़ वर्ल्ड रिकॉर्ड

7 गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड के बाद 8, 9 और 10 वां गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड भी सूरत के विसपी ने किया अपने नाम, वहीं फिल्म स्टाइल फेम साहिल खान ने उन्हें ‘स्टील मैन ऑफ इंडिया’ का खिताब दिया

मुम्बई। फिटनेस आइकॉन, बॉलीवुड एक्टर और मॉडल साहिल खान गुजरात, सूरत के इंटरनेशनल एक्जीबिशन ग्राउंड में हुए एक ऐतिहासिक कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि के रूप में हाजिर हुए। जहां सातवां गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्डधारी सूरत निवासी स्पोर्ट्समैन व स्टंटमैन विसपी खराडी ने तीन और गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड भी अपने नाम किया। विसपी के अंतिम रिस्की गेम में साहिल भी शामिल होकर अपने हथौड़े के प्रहार से विसपी के ऊपर रखे 528 किलो के कंक्रीट ब्रिक स्लैबों को एक एक कर तोड़ते गए और 10वां गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाकर इतिहास रच डाले।
फिल्म ‘स्टाइल’ फेम साहिल खान ने विसपी खराडी को स्टील मैन ऑफ इंडिया कहकर संबोधित किया और मोमेंटो (स्मृति चिन्ह) देकर सम्मानित किया। साहिल खान ने कहा कि विसपी खराडी एक अद्वितीय और बेमिसाल मार्शल आर्ट एक्सपर्ट हैं। वह ऐसे रिस्की करतब करते हैं कि मैं हैरान रह जाता हूँ और मुझे सोचना पड़ता है कि वह इंसान हैं या मशीन। उनके इस रिकॉर्ड मेकिंग इवेंट में हिस्सा लेकर मैं सम्मानित महसूस करता हूँ। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि आर्मी के लिए मैं हर कार्य करने के लिए तैयार रहता हूँ।


साहिल खान के साथ यहां विसपी ने जो स्टंट किया उससे एक नया रिकॉर्ड बना। विसपी खराडी ने यहां मीडिया से बात करते हुए कहा कि फिटनेस के लिए मैं हमेशा समर्पित रहा हूँ। गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड मैं सिर्फ स्वयं की रुचि के लिए बनाता हूँ। मुझे खुशी होती है कि इससे मेरा, मेरे शहर, राज्य और देश का नाम रौशन होता है। ये काफी रिस्की स्टंट्स होते हैं, मगर फैमिली का हमेशा सहयोग रहा है, और इस वजह से मैं यह सब कर पाता हूँ।
विसपी ने अपना 8वां गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड अपने नाम उसने 4 अक्टूबर 2022 की शाम 6.30 बजे दर्ज किया, जब मात्र 57 सेकेंड में उन्होंने 89 कैन को तोड़ा। सूरतवासियों और भारतवासियों के लिए यह गौरव की बात रही। इस कार्यक्रम में सूरत के पुलिस कमिश्नर अजय तोमर की उपस्थिति रही। गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में विसपी ने अपने कारनामे से अपना नाम दर्ज करवाया इसके लिए पुलिस कमिश्नर ने उन्हें बधाई दी। इस भव्य कार्यक्रम में यूथ फिटनेस आइकॉन ऑफ इंडिया साहिल खान ने मोमेंटो (स्मृति चिन्ह) भेंट कर अन्य स्पोर्ट्समैन, बिजनेसमैन, स्थानीय कलाकारों का सम्मान किया।
आपको बता दें कि विसपी खराड़ी ने 55 सेकेंड में 64 सीमेंट की प्लेट को अपनी कोहनी से तोड़कर 9वां गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया।
फिर 528 किलो के कंक्रीट ब्रिक्स स्लैब को अपने सीने के ऊपर रखकर साहिल खान से तुड़वाया और इस तरह विसपी ने 10वां गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया। हालांकि यह काफी रिस्की था, उनके सीने और पीठ पर कील के चुभन से निशान पड़ गए थे। वहां मौजूद लोगों की सांसें रुक गई थीं जब विसपी यह स्टंट कर रहे थे, मगर उनके जुनून ने उनसे यह करवा लिया।
विसपी ने बताया कि लोग उन्हें पागल कहते हैं लेकिन मैं कहता हूं कि जीवन मे कुछ अलग और बड़ा करने के लिए पागलपंती भी जरूरी होती है। बिना जोश, जुनून और पागलपंती के इंसान कुछ हटकर नहीं कर सकता।
साहिल खान ने कहा मैंने बचपन से गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड देखा सुना था, लेकिन आज यहां अपनी आंखों के सामने वर्ल्ड रिकॉर्ड बनते, उसे स्वीकार करते हुए देखा। विसपी ने देश का मान बढ़ाया है, ईश्वर उन्हें और शक्ति दे, जिससे वे रिकॉर्ड पर रिकॉर्ड बनाते जाएं। मैं आज प्रत्यक्षदर्शी हूँ कि मेरे सामने उन्होंने वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया और उनके दसवें रिकॉर्ड में मैंने भी हिस्सेदारी निभाई।


कार्यक्रम में साहिल खान के ढेर सारे फैन्स उनके साथ सेल्फी लेने के लिए बेताब नजर आये। गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड के पदाधिकारी ने विसपी को साहिल खान के साथ रिकॉर्ड क्रिएट करने के लिए सर्टिफिकेट देकर सम्मानित किया। वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने के बीच मे लोक नृत्य भी पेश किया गया जो सभी के लिए मनोरंजन का साधन था। इस तरह केपी ग्रुप और डिवाइन न्यूट्रिशन द्वारा प्रायोजित यह कार्यक्रम एंटरटेनमेंट, स्पोर्ट्स, स्टंट, म्युज़िक, मस्ती और वर्ल्ड रिकॉर्ड कायम करने का एक मिश्रण बन गया जहां मौजूद सभी मेहमानों, दर्शकों के लिए आनंद का पल रहा।

– संतोष साहू

संबंधित पोस्ट

केलॉग्स ने लॉन्च किया ‘प्रो-मूसली’

Hindustanprahari

जीवनधारा संघ संस्था के मुंबई महासचिव आरती चावला द्वारा विक्रोली के सलम एरिया मे जरूरतमंद लोगों को राशन वितरण किया गया

Hindustanprahari

2023 तक यमुना नदी के प्रदूषण को 90 प्रतिशत कम करेंगे : केजरीवाल

Hindustanprahari

मैं फिल्मों में न्यूड और किसिंग सीन नहीं करूंगी : विंध्या तिवारी

Hindustanprahari

मार्कण्डेय त्रिपाठी पंक्ति “राजा भोज और कालिदास”

Hindustanprahari

डॉ. बत्रा’ज़ फाउंडेशन ने किया चैरिटी फोटो प्रदर्शनी ‘मैजिक मोमेंट्स: मरहबां- दुबई’ का आयोजन

Hindustanprahari