ब्रेकिंग न्यूज़
देश-विदेश ब्रेकिंग न्यूज़ राज्य

राईप एयरलाइंस ने भागलपुर हवाई अड्डा का किया निरीक्षण

राईप एयरलाइंस ने भागलपुर हवाई अड्डा का किया निरीक्षण स्मार्टसिटी भागलपुर से मई माह से संभवत उड़ान भरेगा 30 सीटर हवाई जहाज,भविष्य में 50 सीटर के लिए भी भागलपुर एयरपोर्ट केपेबल 

(ब्यूरो बिहार।डॉ0अमित कुमार)
बिहार : राईप एयरलाइंस की टीम ने सांसद अजय मंडल,जिला प्रशासन भागलपुर एवं भागलपुर मांगे हवाई जहाज सेवा संघर्ष समिति के संयुक्त तत्वाधान में भागलपुर हवाई अड्डे का भौतिक निरीक्षण किया एवं उक्त मुद्दों पर घंटों बातचीत की। अगर सब कुछ ठीक-ठाक रहा तो संभवत है मई माह में हवाई सेवा भागलपुर हवाई अड्डे से शुरू की जा सकती है राईप एयरलाइंस की टीम ने स्पष्ट कहा कि तत्काल 30 सीटर हवाई जहाज सेवा यहां से शुरू की जा सकती है। जबकि भविष्य में 50 सीटर हवाई जहाज सेवा के लिए भी भागलपुर हवाई अड्डा उपयुक्त है। यथा टीम द्वारा हवाई अड्डा के संपूर्ण निरीक्षण पश्चात रनवे की सर्वेक्षण की गई। उक्त रिपोर्ट टीम द्वारा केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्रालय को सौंपी जाएगी। तत्पश्चात केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्रालय द्वारा यथाशीघ्र निर्णय लेने की संभावना बन गई है।
उम्मीद जताया जा रहा है कि जिला प्रशासन का भी इस बार हवाई जहाज उड़ान सेवा को लेकर पूर्ण सहयोग मिल रहा है। जबकि भागलपुर मांगे हवाई जहाज संघर्ष समिति का आज 5 सप्ताह से लगातार धरना प्रदर्शन जारी है। उक्त स्थिति को मद्देनज़र रखते हुए यह कयास लगाया जा रहा है कि शीघ्र ही केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्रालय से प्रशासनिक स्वीकृति भी मिल जाएगी। क्योंकि भागलपुर मांगे हवाई जहाज संघर्ष समिति की टीम द्वारा भागलपुर सांसद की अगुवाई में गत दो सप्ताह पूर्व ही केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्रालय पहुंच कर सीधे केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री से मुलाकात कर निर्णय लेने हेतु अनुरोध किया गया था। इस बार भागलपुर को निश्चित ही उड़ान सेवा नसीब होगा। राईप एयरलाइंस टीम के सदस्य सीओ अंकित कुमार एवं सीएमडी विजेंद्र कुमार मिश्र ने बताया कि अगर उचित फ्यूल की व्यवस्था हुई तो शीघ्र ही हवाई सेवा शुरू कर दी जाएगी।

संबंधित पोस्ट

Hindustan_Prahari_e-paper_6 Sep_to 12_Sep 2022

Hindustanprahari

बॉलीवुड आइकॉनिक अवार्ड समारोह में लगा सितारों का मेला 

Hindustanprahari

मार्कण्डेय त्रिपाठी की पंक्ति “उर्मिला वियोग”

Hindustanprahari

‘विश्व संत कबीर पुरस्कार’ से सम्मानित हुए कैलाश मासूम

Hindustanprahari

रेल्वे स्टेशन मास्टर एन. के. सिन्हा जी को लगाया गया कोरोना का पहला टिका

Hindustanprahari

विवेक रंजन अग्निहोत्री ने ट्विटर से बना ली दूरी। जाने क्यों ?

Hindustanprahari