ब्रेकिंग न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़ राज्य

अव्यवस्थाओं ने अनुमान पर लगाई मुहर, गोरखपुर में डेंगू 203

गोरखपुर :  गोरखपुर में शुक्रवार को एक बार फिर 5 केस मिले. इस पर जिले में कुल केस 203 हो गए. पिछले वर्ष के मुकाबले इन 16 दिनों में सबसे ज्यादा डेंगू संक्रमित पाए गए.

दरअसल, पूर्वांचल की गंभीर बीमारी जेई-एईएस को भी पीछे छोड़ते हुए डेंगू का प्रकोप तेजी के साथ फैल रहा है. पूरे प्रदेश भर में जहां डेंगू का विस्फोट हो रहा है. वहीं गोरखपुर में लगातार सोर्स ऑफ रिडक्शन को लेकर चल रहे सर्वे में मलेरिया विभाग और प्रशासनिक टीम भी मैदान में है.
दैनिक जागरण आईनेक्स्ट ने 29 अक्टूबर 2022 को एपिडमोलॉजिस्ट एसीएमओ डॉ. एके चौधरी की रिपोर्ट के आधार पर डेंगू मारेगा और डंक, आंकड़ा होगा 200 पारOacute; न्यूज प्रमुखता से प्रकाशित की थी. केस बढऩे की वजह छठ पूजा में पब्लिक का मूवमेंट, साफ-सफाई का अभाव और नियमित तौर पर फॉगिंग का नहीं होना था.

सिटी में 125 केस
बता दें, शुक्रवार को पांच नए केस मिले. इनमें तीन साल के मासूम समेत पांच लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. हेल्थ डिपार्टमेंट से मिले आंकड़ों की मानें तो सिटी में 125 और रूरल एरिया में 78 डेंगू के मरीज मिले हैं. सरकारी आंकड़ों के अनुसार जिले में 203 लोग संक्रमित हो चुके हैं. यही पिछले साल के मुकाबले तीन गुना से अधिक है. पिछले साल मरीजों की संख्या मात्र 67 थीं. इसी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि डेंगू की रोकथाम में हेल्थ डिपार्टमेंट पूरी तरह से फेल साबित होता हुआ नजर आ रहा है.

अब तक 157 लोगों को नोटिस
जिला मलेरिया अधिकारी अंगद सिंह ने बताया कि सिटी एरिया के पादरी बाजार के मानस विहार कॉलोनी में 42 वर्षीय व्यक्ति, रजही कुड़ाघाट तीन वर्षीय मासूम में डेंगू संक्रमित मिले है. इसके अलावा पिपराइच का 11 वर्षीय बच्चा, सरदानगर के मोतीराम अड्डा की रहने वाली 23 वर्षीय युवती और खोराबार के जंगल रामलखना की रहने वाली 35 वर्षीय महिला डेंगू से पीडि़त मिली है. इन मरीजों की एलाइजा जांच के लिए सैंपल भेजा गया है, जहां डेंगू की पुष्टि हुई है. जिला अस्पताल के डेंगू वार्ड में पहले से ही नौ मरीजों का इलाज चल रहा है. अभी दो नये मरीजों को भर्ती करवाया गया है. मलेरिया विभाग की टीम ने जांच के दौरान 157 लोगों को नोटिस दी है. साथ ही 1689 इलाके में सोर्स रिडक्शन करवाया गया है.

तीन घरों में मिले लार्वा, नोटिस जारी
मलेरिया विभाग की टीम ने तिवारीपुर, निजामपुर, माधोपुर व सूर्यकुंड में जाकर डेंगू मरीजों का वेरिफिकेशन किया. इस दौरान तीन घरों में जमा पानी में मच्छरों के लार्वा मिले. उन्हें नोटिस जारी कर चेतावनी दी गई कि अगले हफ्ते दोबारा लार्वा मिलने पर कार्रवाई की जाएगी. लोगों को साफ पानी जमा न होने देने के लिए अवेयर किया गया.

डेंगू के लक्षण
-तेज बुखार
-त्वचा पर चकत्ते
-तेज सिर दर्द
-पीठ दर्द
-आंखों के पीछे दर्द
-मसूड़ों से ब्लड बहना्र
-नाक से ब्लड बहना
-जोड़ों में दर्द
-उल्टी
-डायरिया

डेंगू से बचाव
-मच्छर काटने से बचें और इसके लिए पूरे बाजू के कपड़े पहले
-खिड़की पर जाली लगाएं और मच्छरदानी का प्रयोग करें
-नाली व गमलों में पानी जमा न होने दें
-पुराने टायर, नारियल की खोल, डिस्पोजल कप ओर कबाड़ में पानी जमा न होने दें
-पानी के बर्तन व टंकी को पूरी तरह ढक कर रखें
-सप्ताह में कूलर, फूलदान, पशु व पक्षियों के बर्तन को साफ करें.

संबंधित पोस्ट

गोरखपुर की जनता को भरोसा, भारी मतों से फिर आयेंगे योगी आदित्यनाथ

Hindustanprahari

संगीत जगत के लोग नेल्सन मंडेला नोबल पीस अवार्ड एकेडमी द्वारा डॉक्टरेट की उपाधि से सम्मानित

Hindustanprahari

अस्वच्छ शिवड़ी स्टेशन की सफाई

Hindustanprahari

नित नवीन खुलासें हो रहें हैं यूपी के धर्मांतरण केस में

Hindustanprahari

भाग गया क्या कोरोना का खौफ, अकाली दल पहुंचा कैप्टन को देने शॉक

Hindustanprahari

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत और उनकी बहन रंगोली चंदेल को समन जारी, बांद्रा पोलिस स्टेशन में हाजिर होने का नोटिस

Hindustanprahari