ब्रेकिंग न्यूज़
देश-विदेश ब्रेकिंग न्यूज़ राज्य

सीएम एकनाथ शिंदे का बड़ा ऐलान, महाराष्ट्र में 75000 सरकारी नौकरियां देगी सरकार

महाराष्ट्र Maharashtra : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीते दिन धनतेरस के मौके पर ‘रोजगार मेले’ (Rozgar Mela) का शुभारंभ किया था। इस योजना के तहत प्रत्येक वर्ष 10 लाख सरकारी नौकरियों पर निर्धारित समय पर नियुक्तियां सुनिश्चित की जाएगी। इस योजना के पहले फेज में 75 हज़ार नियुक्ति पत्र जारी किए गए हैं। अब पीएम मोदी की राह पर चलते हुए महाराष्ट्र सीएम एकनाथ शिंदे ने भी ऐसा ही एलान कर दिया है, जिसकी जानकारी डिप्टी सीएम फडणवीस ने दी है।

फडणवीस ने किया बड़ा एलान

एक रिपोर्ट के अनुसार फडणवीस ने कहा कि एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाली सरकार एक साल में 75 हजार सरकारी नौकरियां देगी। फडणवीस ने युवाओं को 10 लाख रोजगार देने की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहल की भी प्रशंसा की। उन्होंने आगे बताया कि 75,000 नौकरियों में से 18,000 रिक्तियां पुलिस विभाग में होंगी। इसके लिए अगले 5 से 7 दिनों में विज्ञापन प्रकाशित किया जाएगा।’

पीएम ने रोजगार पर दिया था बड़ा बयान

बता दें, प्रधानमंत्री मोदी ने अपने सम्बोधन में बीते दिन कहा कि आज भारत की युवा शक्ति के लिए महत्वपूर्ण दिन हैं। बीते 8 वर्षों में देश में रोजगार और स्वरोजगार का जो अभियान चल रहा है आज उसमें एक और कड़ी जुड़ी रही है ये कड़ी रोजगार मेले की है। आज केंद्र सरकार 75000 युवाओं को नियुक्ति पत्र दे रही है।

उन्होंने कहा कि विकसित भारत के संकल्प की सिद्धि के लिए हम आत्मनिर्भर भारत के रास्ते पर चल रहे हैं। इसमें हमारे नवीन आविष्कारों,उद्यमी , किसानों और उत्पादन से जुड़े साथियों की बड़ी भूमिका है। आज भारत दुनिया की 5वीं बड़ी अर्थव्यवस्था है। 7-8 साल के भीतर हमने 10वें नंबर से 5वें नंबर तक की छलांक लगाई है।

आयातक से निर्यातक की भूमिका में आ रहा है भारत

पीएम मोदी ने कहा, स्टार्टअप इंडिया अभियान ने तो देश के युवाओं के सामर्थ्य को पूरी दुनिया में स्थापित कर दिया है। साल 2014 तक जहां देश में कुछ 100 ही स्टार्टअप थे, आज ये संख्या 80,000 से अधिक हो चुकी है। इसके तहत अभी तक सवा करोड़ से अधिक युवाओं को स्किल इंडिया अभियान की मदद से ट्रेन किया जा चुका है। उन्होंने कहा, आज हमारा सबसे अधिक बल युवाओं के कौशल विकास पर है। प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के तहत देश के उद्योगों की जरूरतों के हिसाब से युवाओं को ट्रेनिंग देने की एक बहुत बड़ा अभियान चल रहा है। भारत कई मायनों में आत्मनिर्भर बन रहा है। एक आयातक से भारत निर्यातक की भूमिका में आ रहा है। अनेक सेक्टर में भारत ग्लोबल हब बनने की दिशा में आगे बढ़ रहा हैं।

संबंधित पोस्ट

मार्कण्डेय त्रिपाठी की पंक्ति “रक्षा बंधन”

Hindustanprahari

पासी जनजागृति संस्था द्वारा मनाया गया अंबेडकर जयंती

Hindustanprahari

अमनप्रीत सिंह और शोभिता राणा अभिनीत फिल्म ‘रामराज्य’ 4 नवंबर को सिनेमागृहों में होगी प्रदर्शित

Hindustanprahari

एफ न्यूज प्रस्तुत ‘इम्पेरिया अवार्ड 2021’ का आयोजन एकता मंच के सहयोग से सम्पन्न

Hindustanprahari

मनीष पॉल भी हुए कोरोना वायरस के शिकार

Hindustanprahari

मैं फिल्मों में न्यूड और किसिंग सीन नहीं करूंगी : विंध्या तिवारी

Hindustanprahari