ब्रेकिंग न्यूज़
राज्य

अखिल भारतीय जनसंघ पूर्ण हिंदूवादी राजनैतिक दल है : डॉ. भारतभूषण

अखिल भारतीय जनसंघ का 12-13 नवंबर जयपुर में राष्ट्रीय वैठक संपन्न हुआ। जिसमें 12 नवम्बर को जनसंघ के पूरे देश से आये हुए पदाधिकारियों की बैठक हुई जिसका उद्देश्य था जनसंघ को सम्पूर्ण भारत वर्ष में विस्तार करना। आने वाले समय में सभी छोटे बड़े चुनावों में अपनी उपस्थिति दर्ज कराने एवम संगठन को मजबूत करने का निश्चय किया गया। दूसरे दिन 13 नवम्बर को जनसभा में बोलते हुए जनसंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ भारतभूषण पाण्डेय ने जनसंघ को पुर्ण एवं शत प्रतिशत हिन्दू वादी राजनैतिक दल बताया। इस बैठक में जनसंघ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के. एन वशुदेवाचार्य, सचिव बी. के रामनरेड्डी, सदस्यता प्रभारी अनिल शर्मा भारद्वाज, मीडिया प्रभारी जगदीश शास्त्री, कार्यालय प्रभारी देश कुमार कौशिक, उत्तर प्रदेश के महासचिव अंजनी तिवारी, उपाध्यक्ष अनुपम भारद्वाज, छत्तीसगढ़ के संयोजक डॉ. रवि श्रीवाश, आसाम के अध्यक्ष रुंगेश्वर खंडवाल, अरुणाचल प्रदेश के संयोजक अनंग तनंग, आन्ध्र प्रदेश के सचिव बाबू राजेन्द्र प्रसाद, उत्तराखंड के प्रभारी संतोष तिवारी, दिल्ली प्रदेश के सचिव हर्षनाथ वर्मा, राजस्थान प्रदेश के कार्यकारी अध्यक्ष पंडित प्रेम शंकर कौशिक, महासचिव संदीप शर्मा, मुकेश कुमार, अरुण गुप्ता, भगत सिंह शेखावत, महिपाल सिंह व अन्य राजस्थान के कार्यकर्ताओं एवं फलाहारी बाबा आनंद गिरी जी महाराज के अलावा सैकड़ो समर्थक लोगों ने जनसंघ को विस्तार करने का निर्णय लिया।
इस कार्यक्रम का संचालन जगदीश शास्त्री (राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी) ने किया तथा अतिथियों का स्वागत राजस्थान प्रदेश के कार्यकारिणी के सदस्यों ने किया। अंत में जनसंघ के राजस्थान प्रदेश के कार्यकारिणी अध्यक्ष पंडित प्रेम शंकर कौशिक ने कार्यक्रम में उपस्थित सभी लोगों का आभार प्रकट किया।

संबंधित पोस्ट

महाराष्ट्र के अमरावती में दो मंजिला इमारत गिरने से पांच की मौत, दो घायल

Hindustanprahari

झारखंड सरकार का दावा महाराष्ट्र के दो बीजेपी विधायकों ने मिलकर की साजिश

Hindustanprahari

अच्छी खबर: मौसम विभाग का अनुमान, इस साल सामान्य रहेगा मानसून

Hindustanprahari

मुंबईकर हो जाओ सावधान, अगले 4 सप्ताह रहेंगे महत्वपूर्ण

Hindustanprahari

पूर्वोत्तर रेलवे के प्रभावी कदमों से बढ़ा माल़ लदान पिछले वर्ष 10.3904 मिलियन टन के अपेक्षा 35.57 % अधिक

Hindustanprahari

विरार लोकल को आज 155 साल पूरे हो गए हैं!

Hindustanprahari