ब्रेकिंग न्यूज़
देश-विदेश ब्रेकिंग न्यूज़

ब्रह्माकुमारी संस्था द्वारा आयोजित कार्यक्रम में आरती त्रिपाठी हुईं सम्मानित

आबू रोड (राजस्थान)। ब्रह्मकुमारी संस्था माउंट आबू में 28 अगस्त से 2 सितंबर तक पांच दिवसीय कार्यक्रम ‘समाधान परक पत्रकारिता से समृद्ध भारत की ओर’ का आयोजन किया जा रहा है। यह कार्यक्रम भारत सहित नेपाल के पत्रकारों को सकारात्मक ऊर्जा के साथ कार्य करने के लिए प्रेरित कर उनका हौसला बढ़ाने के लिए किया गया है। ब्रम्हाकुमारी संस्था द्वारा आयोजित पत्रकारों के विशेष कार्यक्रम ‘समाधान परक पत्रकारिता से समृद्ध भारत की ओर’ कार्यक्रम में चुनिंदा अनुभवी पत्रकारों का विशेष सम्मान किया गया। दिल्ली से सम्पूर्ण भारत में संचालित पत्रकारिता संस्था ‘आल इंडिया स्मॉल न्यूज़ पेपर एसोसिअशन’ की राष्ट्रीय महासचिव और प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया की सदस्य आरती त्रिपाठी का भी विशेष सम्मान हुआ। कार्यक्रम में ब्रह्मकुमारी बहनों द्वारा उन्हें स्मृति चिन्ह और विशेष उपहारों के साथ सम्मानित किया गया। आरती त्रिपाठी पत्रकारिता के क्षेत्र में अग्रणी भूमिका निभाती हैं। उन्होंने कार्यक्रम में अपने अभिभाषण में ब्रह्मकुमारी संस्था का आभार व्यक्त किया और कहा कि जनसंपर्क और जागृति के क्षेत्र में ब्रम्हाकुमारी बहनें सदा अग्रणी रहती है। देश के कोने कोने से लेकर विदेश की भूमि में जनकल्याण और आध्यात्म की गंगा लोगों तक पहुंचाती हैं।
आरती त्रिपाठी का मानना है कि ब्रह्मकुमारी संस्था एक ऐसी जगह है जहाँ आध्यात्म के माध्यम से स्वयं के अस्तित्व का ज्ञान होता है, एक ऐसी ऊर्जा का प्रवाह होता है जो लोगों में सुविचार, अच्छी चेतना और परस्पर प्रेम और सौहार्द्र की भावना का उन्नयन करता है। मानव शरीर में व्याप्त विकारों जैसे कि लोभ, मोह, काम, क्रोध, वासना का पतन कर ज्ञानेंद्रियों को जागृत और ऊर्जा का संचार करता है। जिससे भारत ही नहीं अपितु सम्पूर्ण विश्व में सद्भावना का विकास हो।
31 अगस्त की प्रातःकालीन कार्यक्रम ‘समृद्ध भारत के पुनः स्थापना में मीडिया की भूमिका’ में विशिष्ट अतिथि के रूप में आये पत्रकार बंधुओं ने अपने विचार व्यक्त किये। जिनमें आरती त्रिपाठी भी शामिल हुई और अपना सुविचार व्यक्त किया। आरती ने बताया कि पिछले 25 वर्षों से वह बीके संस्था से जुड़ी हुई है। बाल्यकाल से ही इस संस्था के कार्यक्रमों में अपने पिता शिवशंकर त्रिपाठी के साथ सम्मिलित होती रही हैं।
आरती ने आगे कहा कि ब्रह्मकुमारी एक सकारात्मक माहौल और ऊर्जा प्रदान करने का स्रोत है। यहां प्रातःकाल में जो मॉर्निंग क्लास, राजयोगा और मेडिटेशन क्लास होता है उसका अनुभव पत्रकार बंधु करेंगे तो इसके सकारात्मक ऊर्जा के प्रवाह से उनकी लेखनी को बल मिलेगा और उनकी कार्यक्षमता बढ़ेगी। सकारात्मकता के साथ यदि लेखन की शुरुआत हो तो भारत में स्वर्णिम भारत की पुनः स्थापना अवश्य होगी। प्राचीन समय में पत्रकार स्वयं अपने हाथों से लिखकर खबरों को जन जन तक पहुंचाते थे लेकिन आज डिजिटल मीडिया के जरिये अपनी सोच और खबर को पहुंचाना सरल हो गया है।

– गायत्री साहू

संबंधित पोस्ट

राज कुंद्रा के बाद एकता कपूर और विभू अग्रवाल जैसे अश्लीलता परोसने वालों को भी सज़ा मिलनी चाहिए : सुरजीत सिंह

Hindustanprahari

डॉक्टर जी बनकर आ रहे आयुष्मान खुराना

Hindustanprahari

कॉमेडियन भारती और पति हर्ष की आज कोर्ट में पेशी

Hindustanprahari

Hindustan_Prahari_19 July to 25 July 2022

Hindustanprahari

यूपी चुनाव के मद्देनजर अखिल भारतीय जनसंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष आचार्य (डॉ.) भारतभूषण पाण्डेय का वक्तव्य

Hindustanprahari

अटैक : आतंकियों को नेस्तानाबूद करने आया सुपरसोल्जर

Hindustanprahari