ब्रेकिंग न्यूज़
धर्म-अध्यात्म ब्रेकिंग न्यूज़

तेरापंथ महिला मंडल मुंबई का ‘360 डिग्री इम्पेक्ट’ महाराष्ट्र स्तरीय प्रबुद्ध महिला सम्मेलन का भव्य आयोजन

मुम्बई। अखिल भारतीय तेरापंथ महिला मंडल के निर्देशन में तेरापंथ महिला मंडल मुंबई में महाराष्ट्र स्तरीय प्रबुद्ध महिला सम्मेलन ‘360 डिग्री इम्पैक्ट’ कार्यक्रम आचार्यश्री महाश्रमण की विदूषी शिष्या शासनश्री साध्वीश्री जिनरेखा व साध्वीश्री राकेश कुमारी ठाणा 9 के सानिध्य में 11 अप्रैल 2022 को तेरापंथ भवन, ठाकुर कॉम्प्लेक्स, कांदिवली पूर्व में आयोजित हुआ।
कार्यक्रम का शुभारंभ साध्वीश्री द्वारा नमस्कार महामंत्र के मंगल उच्चारण के साथ हुई।
कार्यक्रम का भव्य आगाज राष्ट्रीय अध्यक्ष (अभातेमम) नीलम सेठिया व अभातेमम के पदाधिकारी, मुंबई अध्यक्षा रचना हीरण, मंत्री अल्का मेहता व टीम द्वारा किया गया।
इसके पश्चात मुंबई महिलामण्डल द्वारा सुमधुर मंगलाचरण की सुंदर प्रस्तुति दी गई।
कार्यक्रम में पहुंचे अतिथियों का स्वागत मुंबई महिला मंडल की कर्मठ अध्यक्षा रचना हिरण ने किया और अभातेमम के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीलम सेठिया, महामंत्री मधु देरासरिया, ट्रस्टी प्रकाशदेवी तातेड़, पूर्वाध्यक्ष कुमुद कच्छारा, पूर्व महामंत्री तरुणा बोहरा, परामर्शक विमला नाहटा, महाराष्ट्र प्रभारी निर्मला चण्डालिया, कार्यकारिणी सदस्य जयश्री जोगड़, महाराष्ट्र से विभिन क्षेत्रों से पधारे अध्यक्ष व मंत्री, प्रायोजक परिवार, सभी पूर्वाध्यक्ष, मार्गदर्शक, परामर्शक, संस्था के सभी पदाधिकारी व सभी संयोजिका, सह संयोजिका व सम्पूर्ण महिला समाज का अपने शब्दों में स्वागत करते हुए मुंबई महिला मंडल में चल रही गतिविधियों की संक्षिप्त जानकारी दी।
शुभकामनाओं के स्वर के अंतर्गत तुलसी महाप्रज्ञ फाउंडेशन के अध्यक्ष के. एल. परमार, मुंबई सभा अध्यक्ष नरेंद्र तांतेड़, चातुर्मास व्यवस्था समिति अध्यक्ष मदन तातेड़, अभातेमम पूर्वाध्यक्ष कुमुद कच्छारा, मीरा भायंदर की एमएलए गीता जैन व सुशील मेड़तवाल ने अपनी शुभकामनाएं दी।
साध्वीवृन्द द्वारा मधुर संगान की सुंदर प्रस्तुति दी गई।
महामंत्री मधु देरासरिया ने अपने वक्तव्य में कहा कि शौर्य, शक्ति व ऊर्जा प्रदान करने वाली कार्यशाला 360 डिग्री इम्पेक्ट हमें यही संदेश देती है कि हमें स्वयं का सम्पूर्ण विकास करना है किंतु यथार्थ की धरती पर खड़ा रहना है। अपनी क्षमताओं को स्वतः पहचानते हुए हमारी आत्मा के दीप को जलाना है। स्वयं में विश्वास का दीपक जलाना है और अपने श्रावकत्व को बनाये रखना है।
कार्यक्रम के दौरान तेरापंथ महिलामण्डल मुंबई द्वारा सरदार सती पर सुंदर नाट्य प्रस्तुति पेश की गई। साध्वीश्री निर्वाण श्रीजी व साध्वीश्री योगक्षेम प्रभा का इस नाट्य को तैयार करने में विशेष कृपा रही व उसे प्रस्तुत करने में कुमुद कच्छारा एवं जयश्री बडाला का सहयोग रहा।


कन्या मंडल सह प्रभारी नूतन लोढ़ा ने मुख्य वक्ता सुनिता संचेती का परिचय देते हुए कहा कि उन्होंने अपने जीवन में हर मोड़ पर कठिनाइयों से हारने की बजाय अपने मनोबल को बनाये रखते हुए लक्ष्य की ओर कदम बढ़ाया।
राष्ट्रीय अध्यक्ष नीलम सेठिया ने विषय आत्मदीपो भव (Be your own light) पर अपने विचार रखते हुए महात्मा गौतम के सिद्धांत को आत्मसात करते हुए कहा कि हमें स्वयं को आत्मो दीप भव: बनाना है। स्वयं को प्रज्वलित करना है। हमें अपने भावों को शुद्ध बनाना है और अशुद्ध भावों के लिए खम्मत खामणा करना है। हमें यह विचार करना है कि इन वर्षों में कितना स्वयं का विकास किया है और आने वाली बहनों को हम कैसे विकास के पथ पर अग्रसर करें।
तेमम मुंबई पूर्वाध्यक्ष श्रीमती प्रेमलता सिसोदिया ने प्रेरणा सम्मान पत्र का वाचन किया।
2022 प्रेरणा सम्मान पुरस्कार सायन कोलीवाड़ा से संतोष देवी मनोहरलाल राठौड़ को सम्मानित किया गया।
साध्वीश्री राकेश कुमारी ने अपने प्रेरणा पाथेय में कहा कि महिला एक ऐसी शक्ति है जो परिवार, समाज व राष्ट्र के प्रति अपना दायित्व निभाते हुए विकास के पथ पर अग्रसर हो रही है। मुंबई आध्यात्मिक नगरी है यहां सपने को साकार करते हुए सबको साथ लेकर चलने का जज्बा सिर्फ नारी में है।
शासनश्री साध्वीश्री जिनरेखा ने अपने उदबोधन मे कहा कि हमें अहम, आकांक्षा, आशंका व असहिष्णुता की परिक्रमा को छोड़कर विनम्रता, जागरूकता, सहिष्णुता को जागृत करते हुए आत्मा के दीप को जलाना है।
कार्यक्रम के मुख्य प्रायोजक परिवार श्रीमती कंकुबाई, इंद्रा व सीमा धाकड़ व आतिथ्य सत्कार प्रतिभा सुशील मेड़तवाल, भावना चौका आरती राकेश कटौतियां व कला अभ्युदय सक्षम योजना के प्रायोजक दर्शना महावीर डूंगरवाल का सम्मान किया गया।
कार्यक्रम के प्रथम सत्र का सफल संचालन मुंबई महिला मंडल मंत्री अल्का मेहता व आभार ज्ञापन सहमंत्री सरोज सिंघवी ने किया।
कार्यक्रम में सभी पूर्वाध्यक्ष कमला आर जैन, भारती कच्छारा, सुनिता परमार, सुमन बच्छावत, कांता तातेड़, भारती सेठिया, भाग्यश्री कच्छारा, उपाध्यक्ष विमला कोठारी, श्वेता सुराणा, सहमंत्री संगीता चपलोत, कोषाध्यक्ष सुनिता सुतरीया, प्रचारमंत्री कांता डूंगरवाल, ई मीडिया प्रभारी सुचिता कोठारी, अनिता सिंयाल, मार्गदर्शक, परामर्शक व कार्यकारिणी सदस्य व महाराष्ट्र के सभी क्षेत्रों से महिलाओं की अच्छी खासी उपस्थिति रही।
तेरापंथ महिला मंडल मुंबई का ‘360 डिग्री इम्पेक्ट’ महाराष्ट्र स्तरीय प्रबुद्ध महिला सम्मेलन के द्वितीय सत्र ‘स्वस्थ समाज की ओर बढ़ते कदम’ की शुरुआत मुंबई कन्यामण्डल के मधुर संगान द्वारा हुई।
टॉक शो पैनल डिस्कशन ब्रेक द बैस में मुंबई महिला मंडल की कर्मठ अध्यक्षा रचना हिरण ने प्रबुद्ध महिला सदस्यों का परिचय दिया।
साथ ही रचना हीरण ने राष्ट्रीय अध्यक्षा नीलम सेठिया, महामंत्री मधु देरासरिया के अलावा टीवी एक्ट्रेस सायंतनी घोष, राइटर्स एवं जर्नलिस्ट एसोसिएशन की महिला विंग की अध्यक्षा अल्का अग्रवाल बॉम्बे हाईकोर्ट की वकील नीता जैन तथा न्यूरोलॉजिस्ट डॉ. प्रियंका तातेड़ मेहता के साथ सवाल जवाब किया। टॉक शो में महिला अधिकारों सहित घर एवं घर के बाहर होने वाली समस्याओं पर चर्चा एवं समाधान पर बेहद सधे हुए अंदाज में विस्तार से बातचीत हुई।
नीलम ने पर्दे के पीछे रह कर कार्य करने वाली महिलाओं की सराहना करते हए जिज्ञासाओं का समाधान किया।
अलका जैन ने महिलाओं की केशरिया परिधान को अग्नि के रंग के प्रतिरूप बताया और कहा कि नारी जिस दिन खुश रहेगी उस दिन सही मायने में नारी सशक्तीकरण होगा।
नीता जैन ने कहा कि नारी में समानता स्वयं के घर से लाएंगे तभी पुरुष और नारी में समानता आएगी।
उन्होंने आगे कहा कि हम काम क्यों कर रहे हैं या किसलिए कर रहे हैं? अपने काम को दिल से करना है और लक्ष्य बनाकर रखना है। हर समय सामाजिक, पारिवारिक और स्वयं की जीवन को बैलेंस करके जीना है।
सायंतनी घोष ने कहा कि महिला शक्ति के दायित्वों को महत्व देते हुए कहा कि नारी मल्टी टास्कर है और वह हर मुश्किल को आसान बनाकर आगे बढ़ने का प्रयास करती है और उसमें वह गुण नैसर्गिक है।
‘बढ़ते तलाक जिम्मेदार कौन?’ पर अभातेमम पूर्व महामंत्री तरुणा बोहरा द्वारा बड़े ही रोचक तरीके से विषय पर अलग अलग दशा में कैसे तालमेल बिठाये पर ग्रुप चर्चा चली।
इसके बाद समूह वार्ता में इस विषय पर भी बेहद गंभीर समस्या और निदान पर चर्चा की गई। तत्पश्चात उपस्थित लोगों का सम्मान किया एवं सभी प्रबुद्ध महिलाओं ने अच्छे विचार रखे।
इस चर्चा पर राष्ट्रीय अध्यक्ष नीलम सेठिया ने अपने विचार रखे।
मेवाड़ महिला मण्डल, प्रज्ञा महिला मण्डल, साधुमार्गी जैनसंघ, भारत जैन महामण्डल, मरुधर महिला मण्डल तथा मुंबई व महाराष्ट्र की प्रबुद्ध महिलाओं की भी सहभागिता रही।
कार्यक्रम में प्रबुद्ध महिलाओं व उपस्थित महानुभावों का स्वागत सम्मान किया गया।
इस कार्यक्रम की सफलता में पूरी कार्यकारिणी टीम का सहयोग रहा। जिनको जो दायित्व दिया गया वह बखूबी निभाया गया। कन्यामण्डल का व्यवस्था व साज सज्जा में विशेष सहयोग रहा। श्री तुलसी महाप्रज्ञ फाउंडेशन का विशेष सहयोग मिला। मुंबई महिला मण्डल सभी कार्यकर्ताओं का जिन्होंने कार्यक्रम को सफल बनाने में सहयोग दिया उनका विशेष आभार ज्ञापन करता है।
द्वितीय सत्र ‘स्वस्थ समाज की ओर बढ़ते कदम’ का संचालन सहमंत्री संगीता चपलोत व आभार ज्ञापन कोषाध्यक्ष सुनिता सुतरीया ने किया।
तीनों सत्र में लगभग 950 महिलाओं की अच्छी खासी उपस्थिति रही।

– गायत्री साहू

संबंधित पोस्ट

भाजपा नेता विशाल भगत ने किया 1008 तुलसी पौधे का वितरण, एनवायरनमेंट बाबा रहे उपस्थित

Hindustanprahari

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने प्लास्टिक प्रदूषण को रोकने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफार्म कू (Koo) पर की अपील

Hindustanprahari

संजय निरुपम की उपस्थिति में एमएनबी के दिव्यांगों ने किया रक्तदान

Hindustanprahari

फिल्म ‘टीटू अंबानी’ के प्रमोशन के लिए अभिनेत्री दीपिका सिंह बनी आज के समय की श्रवण कुमार 

Hindustanprahari

अमेरिका में अब लोग स्वयं कर सकेंगे कोरोना की जांच

Hindustanprahari

गोरखपुर ललित नारायण मिश्र रेलवे हॉस्पिटल में 500 लीटर ऑक्सीजन प्लांट का हुआ उद्घाटन।

Hindustanprahari