ब्रेकिंग न्यूज़
मनोरंजन

फ़िल्म निर्माण के सभी शैलियों में उस्ताद साबित हुए हैं आनंद एल राय

थ्रिलर से लेकर कॉमेडी से लेकर हॉरर से लेकर सोशल ड्रामा तक की प्रेम कहानियां – आनंद एल राय सभी शैलियों के उस्ताद साबित हुए हैं।

बॉलीवुड में फिल्म निर्माता आमतौर पर अपनी खूबियों से चिपके रहते हैं और एक के बाद एक उसी शैली की फिल्में बनाते रहते हैं। कई बार वे स्टीरियोटाइप हो जाते हैं और जब वे उस टाइपकास्ट को तोड़ने की कोशिश करते हैं, तो दर्शकों को उनका काम उतना पसंद नहीं आता है। आनंद एल राय, अपने कलर येलो प्रोडक्शंस के तहत, बॉलीवुड के उन दुर्लभ फिल्म निर्माताओं में से एक हैं, जिन्होंने लगभग सभी शैलियों में फिल्मों का निर्देशन और निर्माण किया है। इतना ही नहीं, उन्होंने सभी विविध शैलियों में ब्लॉकबस्टर हिट भी दी हैं।

आनंद एल राय के नवीनतम फ़िल्म हसीन दिलरुबा को दर्शकों का भरपूर प्यार मिल रहा है। ट्रेलर रिलीज होने के बाद से ही सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रहा है। मेकर्स ने जो सस्पेंस बनाया है उसके लिए इसकी तारीफ की गई है। आगे क्या होने वाला है, इस बारे में रोमांच लोगों को फिल्म की रिलीज के इंतजार में अपनी सीटों पर बांधे रखें है।

थ्रिलर के अलावा, आनंद एल राय ने बॉलीवुड में सर्वश्रेष्ठ हॉरर फिल्म – तुम्बाड का भी निर्माण किया है। न केवल दर्शकों ने इसे पसंद किया है, बल्कि फिल्म ने कई अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार जीते हैं। ओटीटी पर इसने अपना एक दर्जा हासिल कर लिया है और लोग इस फ़िल्म की अगली कड़ी का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं।

जब हम रोमांटिक कॉमेडी की बात करते हैं तो हम हैप्पी भाग जाएगी, इसके सीक्वल हैप्पी फिर भाग जाएगी, तनु वेड्स मनु और इसके सीक्वल तनु वेड्स मनु रिटर्न्स जैसी फिल्मों को नहीं भूल सकते। आनंद एल राय के कलर येलो प्रोडक्शंस ने हमें ये रोमकॉम युगों तक याद रखने और जब भी छुट्टी का दिन हो फिर से देखने के लिए दी है।

सामाजिक मुद्दों पर बनी फिल्में आनंद एल राय की खासियत हैं। शुभ मंगल सावधान और इसके सीक्वल शुभ मंगल ज्यादा सावधान से लेकर निल बटे सन्नाटा तक, कलर येलो प्रोडक्शंस ने हमें कुछ बेहतरीन सामाजिक ड्रामे दिए हैं।

यहां तक कि आनंद एल राय की फिल्म मनमर्जियां और रांझणा जैसी प्रेम कहानियों को भी दुनियाभर के प्रशंसकों ने खूब सराहा है।

बिना किसी संदेह के, आनंद एल राय ने बार-बार साबित किया है कि जब फिल्म निर्माण की बात आती है तो उन्हें सभी शैलियों में महारत हासिल है।

संबंधित पोस्ट

देशभक्ति फिल्म ‘नमो क्रांति’ को सेंसर बोर्ड ने दिया ‘यू’ सर्टिफिकेट

Hindustanprahari

4 मई को आयोजित होगा लीजेंड दादासाहेब फाल्के अवार्ड – 2022

Hindustanprahari

आज है दिलीप पांढारकर का जन्मदिन, शुभकामनाओं की लगी है झड़ी

Hindustanprahari

भारत ने खो दी अपनी स्वरकोकिला

Hindustanprahari

Pyaari : खुलके जीने की आज़ादी और सच्चे प्यार की तलब में नारीत्व की एक पहेली, डॉली तोमर की है सशक्त भूमिका

Hindustanprahari

राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के द्वारा फिल्म ‘भारत के अग्निवीर’ की घोषणा

Hindustanprahari