ब्रेकिंग न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़ राज्य शहर

महाराष्ट्र में लगा वीकेंड लॉकडाउन , सिर्फ आवश्यक सेवाओं की रहेगी अनुमति

●महाराष्ट्र के कोरोना संक्रमण रोकने ने लिए 30 अप्रैल तक लगा वीकेंड लॉकडाउन.

●रात 8 बजे से सुबह 7 बजे तक राज्य भर में लागू रहेगा नाइट कर्फ्यू.

●धार्मिक स्थलों पर कड़े प्रतिबंध, मॉल और थिएटर पूरी तरह बंद.

मुंबई : महाराष्ट्र में लगातार बढ़ रहे कोरोनावायरस संक्रमण को देखते हुए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने वीकेंड लॉकडाउन (Weekend Lockdown) की घोषणा की.

साथ ही राज्य में नाइट कर्फ्यू (Night curfew) भी लगाया गया है. नाइट कर्फ्यू की अवधि रात 8 बजे से सुबह 7 बजे तक होगी. यह व्यवस्था 30 अप्रैल तक लागू रहेगी. हालांकि स्थिति की लगातार समीक्षा की जायेगी और वीकेंड लॉकडाउन को सम्पूर्ण लॉकडाउन में भी बदला जा सकता है. मुख्यमंत्री ने आज राज्य के आला अधिकारियों के साथ बैठक भी की.

बैठक में राज्य में कड़े प्रतिबंध लगाने की योजना पर बात हुई. जल्द ही राज्य सरकार दिशा-निर्देश जारी करेगी. वहीं, मुख्यमंत्री ठाकरे ने मनसे चीफ राज ठाकरे और पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से बात की. उद्धव ने दोनों से कहा कि कोरोना की भयावह स्थिति से निपटने के लिए राज्य में कड़े प्रतिबंध लगाने होंगे. उन्होंने दोनों नेताओं से सहयोग करने की बात कही. दोनों नेताओं ने सहयोग का भरोसा दिया है.

महाराष्ट्र में रेस्तरां आदि को केवल होम डिलीवरी और पार्सल की अनुमति दी गयी है. आप वहां बैठकर खाना नहीं खा सकते. धार्मिक स्थलों को लेकर भी कड़े नियम बनाये गये हैं. सभी मॉल्स, थियेटर और पार्क को पूरी तरह बंद कर दिया गया है. मुख्यमंत्री ने फिल्म और धारावाहिक निर्माताओं के साथ भी बैठक की और महामारी से निपटने में पूर्ण सहयोग मांगी.

मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से जारी बयान के मुताबिक, हिंदी और मराठी फिल्म व टेलीविजन निर्माताओं के साथ हुई ऑनलाइन बैठक में मुख्यमंत्री ठाकरे ने उनसे सहयोग एवं सलाह मांगी. मुख्यमंत्री ने शनिवार को नाटक निर्माताओं, मल्टीप्लेक्स एवं एकल स्क्रीन मालिकों एवं जिम मालिकों से संवाद किया था और कोविड-19 के बढ़ते मामलों पर उनकी राय जानी थी.

सिनेमा ऑनर्स ऐंड इग्जिबिटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष नितिन दतार ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि उन्होंने सुझाव दिया कि अगर सरकार इच्छा व्यक्त करे तो वह एकल स्क्रीन सिनेमाघरों के मालिकों से उनकी संपत्ति को कोविड-19 मरीज देखभाल केंद्र के तौर पर इस्तेमाल करने लिए बात कर सकते हैं. उन्होंने कहा कि महामारी और अन्य कई कारणों से ये सिनेमाघर बंद हैं.

बढ़ायी जायेगी बिस्तरों की संख्या

मुंबई नगर निकाय ने रविवार को कहा कि उसने शहर में संक्रमित मरीजों का इलाज करने वाले चिकित्सा केंद्रों में और अधिक बिस्तरों की व्यवस्था करने का फैसला किया है. शहर में शनिवार को कोरोना वायरस के 9,108 नये मामले सामने आए, जो एक दिन में आए संक्रमण के सबसे अधिक मामले हैं. महानगरपालिका आयुक्त आई एस चहल ने एक बयान में कहा कि हमने वृहन्मुंबई महानगरपालिका (एमसीजीएम) के तहत आने वाले कोविड-19 स्वास्थ्य देखभाल केंद्रों और कोविड-19 अस्पतालों में पिछले सात दिन में अतिरिक्त 3,000 बिस्तरों की व्यवस्था की है.

संबंधित पोस्ट

श्री वल्लभ योग सोसायटी में गरबा की धूम, विधायक अतुल भातखलकर की रही उपस्थिति

Hindustanprahari

रॉनी रॉड्रिग्स द्वारा आयोजित दीवाली मिलन समारोह में फिल्मी हस्तियों की उपस्थिति

Hindustanprahari

सर्वदलीय बैठक में CM उद्धव ठाकरे बोले , कोरोना रोकने के लिए लॉकडाउन ही विकल्प , जल्द हो सकता है ऐलान

Hindustanprahari

Pyaari : खुलके जीने की आज़ादी और सच्चे प्यार की तलब में नारीत्व की एक पहेली, डॉली तोमर की है सशक्त भूमिका

Hindustanprahari

पूर्व कप्तान सौरव गांगुली के पहले कोच अशोक मुस्तफी का निधन

IND vs AUS: ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज की शुरूआत से पहले टीम इंडिया के लिए आई अच्छी खबर, इशांत और साहा कर सकते हैं वापसी

Hindustanprahari