ब्रेकिंग न्यूज़
धर्म-अध्यात्म

पौधारोपण कर गायत्री परिवार का प्रकृति बचाओ मुहिम

कल्याण। गायत्री परिवार, चेतना केंद्र मुंबई प्रमुख की ओर से प्रकृति बचाओ मुहिम चलाया जा रहा है। इसके तहत परिवार की ओर से टिटवाला (म्हसकल), कल्याण के अश्वमेघ उपवन में दस हजार विभिन्न प्रजातियों के पौधों का रोपड़ किया गया। इस अवसर पर बड़ी संख्या में गायत्री परिवार के सक्रिय कर्मठ एवं ओजस्वी कार्यकर्ताओं द्वारा भाग लिया गया।
गौरतलब है कि गायत्री परिवार, चेतना केंद्र मुंबई प्रमुख मनु भाई पटेल द्वारा वर्ष 2019 से टिटवाला में पौध रोपड़ मुहिम चलाया जा रहा है। यह अभियान जुलाई या जनवरी माह में वन विभाग की भूमि पर चलाया जाता है, जिसे अश्वमेघ उपवन का नाम रखा गया है। प्रत्येक वर्ष इस क्षेत्र में हजारों पौधों का रोपण किया जाता है। इन पौधों को सुरक्षा व पानी आदि की व्यवस्था भी गायत्री परिवार की ओर से किया जाता है। पौधा रोपण के लिए 30 हेक्टेयर भूमि वन विभाग से ली गयी है। परिवार की ओर से वन विभाग की जमीन पर अब तक लाखों पौधे लगाये जा चुके हैं।


गत वर्ष भीषण गर्मी में अज्ञात व्यक्ति द्वारा अश्वमेध उपवन में आग लगा दी गयी थी, जिससे अधिकांश पौधे जलकर खाक हो गए। फ़िलहाल अभी भी इस उपवन में 40 से 50 हजार विभिन्न प्रजातियों के पौधे जीवित बचे हुए हैं। प्रति वर्ष की भांति इस बार नव वर्ष की बेला पर गायत्री परिवार, चेतना केंद्र मुंबई प्रमुख मनु भाई के सानिध्य में दस हजार पौधों का रोपण किया गया। जिसमें 300 से अधिक गायत्री परिवार के सदस्यों ने भाग लिया। इस अवसर पश्चिम जोन के प्रभारी डॉ. राजेंद्र त्रिपाठी अपने सहयोगियों के साथ, घनश्याम सिंह और छन्नू यादव (चेतना केंद्र के पुरोहित) आदि मुख्य रूप से उपस्थित हुए। इस पौध रोपण कार्यक्रम में शरद पारधी (कुलपति देव संस्कृति विश्वविद्यालय, शांतिकुंज हरिद्वार) मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित हुए। वहीं इस मुहिम में ज्ञानरथ चालक देवेन्द्र, भिवंडी से पी.डी. यादव और मुंबई पश्चिम से डॉ. वरुण आदि की टीम ने भाग लिया।
अश्वमेघ उपवन में प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी नालासोपारा गायत्री परिवार युवा प्रज्ञा मंडल ट्रस्ट के संस्थापक और गायत्री परिवार युवा प्रज्ञा मंडल ट्रस्ट के युवा कर्मठ व सक्रीय कार्यकर्ताओं द्वारा बढ़ चढ़कर पौधा रोपण कार्यक्रम में भाग लिया गया, जिसमें डॉ. सी.आर.सरोज, संजय जायसवाल, उमाकांत मिश्रा, अवधेश कुमार गुप्ता, सुधीर माने, रजनी माने, शंभूनाथ पांडे, राजेश पांडे और मनीष पांडे आदि मुख्य रूप से उपस्थित हुए।
प्रकृति बचाओ मुहिम के तहत मुंबई सहित आसपास के जिलों से भी बड़ी संख्या में गायत्री परिवार के सक्रिय व कर्मठ कार्यकर्ताओं द्वारा सहयोग एवं श्रमदान गुरुदेव के चरणों में समर्पित अभियान को सफल बनाया गया। वहीं स्थानिक वन विभाग के अधिकारी व कर्मचारी भी उपस्थित रहे।

संबंधित पोस्ट

राशिफल 27 जुलाई: आज इन राशिवालों को रहना होगा सावधान, संभलकर करें निवेश

हफ्ते के आखिरी दिन गिरावट के साथ खुले शेयर बाजार, RIL और HDFC के शेयर टूटे

पाणिनी

Hindustanprahari

कोरोना वैक्सीनः उत्पादन शुरू, आप तक कब पहुंचेगी वैक्सीन, पढ़ें पूरी खबर

जब पहली बार किसी गेंदबाज ने पूरी टीम को किया ढेर, 64 साल के बाद भी है विश्व रिकॉर्ड

सारा तेंदुलकर और शुभमन गिल ने एक जैसे कैप्शन के साथ शेयर की तस्वीर, दोनों हो गए ट्रोल