ब्रेकिंग न्यूज़
राज्य

डॉ. मुखर्जी ने बलिदान देकर देश की रक्षा की – आचार्य भारतभूषण

भारतीय जनसंघ के संस्थापक अध्यक्ष और स्वतंत्र भारत के प्रथम उद्योग मंत्री डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस पर जनसंघ कार्यालय में श्रद्धांजलि अर्पित की गई तथा राष्ट्रीय कार्य परिषद् की ऑनलाइन बैठक आयोजित हुई। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए अखिल भारतीय जनसंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष आचार्य भारतभूषण पाण्डेय ने डॉ मुखर्जी के जीवन पर विस्तार से प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि वे एक महान शिक्षाविद, विधिवेत्ता, प्रशासक और दूरदर्शी राजनेता थे। उन्होंने जीवन की तमाम सुख-सुविधाओं का त्याग किया और हमेशा संघर्ष का कंटकाकीर्ण मार्ग चुना। आचार्य पाण्डेय ने कहा कि बंगाल के वित्त मंत्री, संविधान सभा के सदस्य तथा केन्द्रीय उद्योग मंत्री के रूप में डॉ. मुखर्जी का इस देश को योगदान स्वर्णाक्षरों में अंकित है। उन्होंने कहा कि सर क्रिप्स और कैबिनेट मिशन के समक्ष भारतीय जनता का स्वतंत्रता के लिए प्रभावी पक्ष डॉ. मुखर्जी ने रखा और आधे बंगाल तथा पंजाब को पाकिस्तान जाने से बचा लिया। जम्मू और कश्मीर से दो प्रधान, दो विधान और दो निशान समाप्त कर देश की एकता, अखण्डता के लिए चालीस दिनों तक श्रीनगर जेल में बंद रहते डॉ. मुखर्जी ने अपना बलिदान दे दिया। जनसंघ अध्यक्ष ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से डॉ. मुखर्जी की मृत्यु पर पड़े रहस्य की जाँच कराने की मांग को दोहराया। उन्होंने कहा कि डॉ. मुखर्जी का जीवित स्मारक जनसंघ है जिसे सशक्त बनाकर उन्हें सच्ची श्रद्धांजलि दी जा सकती है। राष्ट्रीय महामंत्री राकेश गुरखा (श्रीनगर-कश्मीर)ने संचालन, अंजनी तिवारी (वाराणसी)ने स्वागत भाषण, जगदीश शास्त्री (मुम्बई) ने विषय प्रवर्तन तथा देशकुमार कौशिक (दिल्ली) ने धन्यवाद ज्ञापन किया। इस अवसर पर अनिल शर्मा भारद्वाज (जयपुर), दिनेश जिंदल(करनाल), डॉ. रवि श्रीवास (रायपुर), मयूर जानी(अहमदाबाद), दिनेश भारद्वाज (राजस्थान), अमर कुमार रायजादा (लखनऊ), वासुदेवाचार्य (काशी), संगु कृष्णन (चेन्नई), बी के रमनारेड्डी (हैदराबाद), एम सुधाकर चौधरी (तिरुपति), बिभाष बसाक, दीप्तेन्दु बराल एवं जीतू कर्माकर (कोलकाता) ने ऑनलाइन कार्यक्रम में भाग लिया तथा डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी को श्रद्धांजलि अर्पित की।

संबंधित पोस्ट

अखिल भारतीय छत्रिय महासभा कोर कमिटी की बैठक संपन

Hindustanprahari

मानसून को देखते हुए रेलवे ने की तैयारी, बरती जा रही है आवश्यक सावधानियां।

Hindustanprahari

शिवसेना के लिए राजनीति केवल चुनावों तक सीमित है : आदित्य ठाकरे

Hindustanprahari

गैंगस्टर इकबाल मिर्ची की मुंबई में स्थित लगभग 500 करोड़ रुपये की संपत्ति कुर्क

Hindustanprahari

समाचार की प्रस्तुति में हो शालीनता और सभ्यता : प्रो. ओमप्रकाश देवल

Hindustanprahari

कोविड-19 के इस मुश्किल समय में हेल्थ और हाइजिन से जुड़े प्रोडक्ट्स पर एशियन पेंट्स का जोर: अमित सिंगलेे