ब्रेकिंग न्यूज़
खाना-खजाना

जल्द ड्रोन से होगी फूड पैकेज की डिलीवरी

 

Swiggy के फूड और मेडीकल पैकेज दोनों के लिए ड्रोन डिलीवरी ट्रायल शुरू हो चुके हैं।
Swiggy ने ANRA टेक्नोलॉजीज के साथ की है साझेदारी।

कंपनी ने ड्रोन द्वारा ट्रायल का तीन मिनट का वीडियो भी शेयर किया है।

Swiggy को संबंधित मंत्रायलयों द्वारा भी अंतिम मंजूरी मिल चुकी है।

Swiggy जल्द ही ड्रोन के द्वारा फूड डिलीवरी करना शुरू कर सकती है। इसके फूड और मेडीकल पैकेज दोनों के लिए ट्रायल शुरू हो चुके हैं। Swiggy के ड्रोन डिलीवरी पार्टनर एएनआरए (ANRA) टेक्नोलॉजीज को फूड डिलीवर करने हेतु ड्रोन परीक्षण शुरू करने के लिए रक्षा मंत्रालय (MoD), विमानन महानिदेशालय (DGCA) और नागरिक उड्डयन मंत्रालय (MOCA) से अंतिम मंजूरी मिल गई है। एएनआरए टेक्नोलॉजीज को बियॉन्ड विजुअल लाइन ऑफ साइट (BVLOS) संचालन के लिए मंजूरी मिल गई है। लम्बी योजना, हवाई यातायात नियंत्रण एकीकरण और इक्यूपमेंट तैयार करने के बाद एएनआरए ने 16 जून को अपनी पहली उड़ान शुरू की। अगले कई हफ्तों तक एएनआरए टीम क्रमशः उत्तर प्रदेश और पंजाब में एटा और रूपनगर जिलों में BVLOS फूड और मेडीकल पैकेज वितरण का परीक्षण करेगी।

फूड डिलीवरी के लिए Swiggy के साथ साझेदारी करने के अलावा एकीकृत हवाई क्षेत्र प्रबंधन फर्म भी इसी तरह की एक अन्य परियोजना में लगी हुई है। उसके लिए इसने भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT) रोपड़ के साथ साझेदारी की है और यह मेडीकल डिलीवरी पर ध्यान केंद्रित करेगी।

Swiggy की प्रमुख कार्यक्रम प्रबंधक शिल्पा ज्ञानेश्वर ने कहा कि इस परियोजना के माध्यम से कंपनी का लक्ष्य “ड्रोन तकनीक की लंबी दूरी की दक्षता को सर्वोत्तम उपयोग में लाना” है। ज्ञानेश्वर ने आगे कहा, “अंतिम मील की यात्रा को सुगम व तेज करने और हमारे उपभोक्ताओं को अधिकतम लाभ पहुंचाने के लिए उपलब्ध नवीनतम तरीकों का पता लगाना स्वाभाविक है।”

ANRA के संस्थापक और सीईओ अमित गंजू ने कहा कि उनके और उनकी टीम के लिए प्रेरक कारक इस तथ्य को जानने से आता है कि “हमारी तकनीक जल्द ही कम आबादी क्षेत्र वाले लोगों को फूड और मेडीकल पैकेज देने में मदद कर सकती है।”

एक टेस्ट फ्लाइट वीडियो में एएनआरए टीम ने दिखाया कि डिलीवरी कैसे होने की संभावना है। लगभग 3 मिनट के वीडियो में एक ड्रोन एक छोटे से फूड पैकेज को उठाते हुए जमीन पर लौटने और पैकेज देने से पहले एक निश्चित दूरी तक उड़ते हुए दिखाई देता है।

कछ हफ्ते पहले Google समर्थित डिलीवरी स्टार्ट-अप Dunzo ने घोषणा की थी कि वह विश्व आर्थिक मंच (World Economic Forum) के सहयोग से तेलंगाना सरकार द्वारा शुरू की गई ‘मेडिसिन फ्रॉम द स्काई’ परियोजना के तहत दवाओं की ड्रोन डिलीवरी के लिए तैयार है। इस परियोजना का उद्देश्य आपातकालीन मेडीकल डिलीवरी को सक्षम बनाना है जिसमें COVID-19 के टीके और अन्य आवश्यक चीजें शामिल हो सकती हैं।
Dunzo उन संस्थाओं में से है जिन्हें हाल ही में केंद्र सरकार द्वारा ड्रोन का उपयोग करके दृश्य रेखा से परे (BVLOS) प्रायोगिक उड़ानों की अनुमति दी गई थी।

संबंधित पोस्ट

एक अगस्त से होने जा रहे हैं ये बदलाव, खत्म हो रही है इन कार्यों की समयसीमा, आपके लिए जानना जरूरी

दांत हो रहे हैं खराब तो अब आपको घर बैठे डॉक्टर्स बताएंगे उपचार, बस करना होगा यह काम

राशिफल 27 जुलाई: आज इन राशिवालों को रहना होगा सावधान, संभलकर करें निवेश

‘हकुना मॉस्कैटो रेस्टो बार’ में मिलेंगे स्वादिष्ट व्यंजन

Hindustanprahari

राशिफल 31 जुलाई: इन 5 राशि वालों के बनेंगे अटके हुए काम, सुधरेगी आर्थिक स्थिति

बढ़ा हुआ यूरिक एसिड दे सकता है कई बीमारियों को न्योता, घर बैठे ऐसे कर सकते हैं कंट्रोल