ब्रेकिंग न्यूज़
हेल्थ

कैसे पता करें की शरीर में विटामिन बी 12 की कमी है?

 

लोगों को विटामिन बी12 की कमी होना आम बात है, लेकिन अधिकांश लोगों की इसकी जानकारी नहीं होती। वयस्कों में अधिकांशतः इसकी कमी पाई जाती है। गर्भावस्था, स्तनपान कराने वाली महिलाओं को भी विटामिन बी12 की कमी हो सकती है।

क्या आपको पता है कि विटामिन बी12 की कमी से क्या होता है? किस उम्र वर्ग के लोगों को इसकी कमी होने की सबसे अधिक संभावना रहती है? अगर किसी व्यक्ति को विटामिन बी12 की कमी हो गई तो कौन-सी बीमारी हो सकती है? आपके लिए यह जानकारी बहुत ही महत्वपूर्ण है क्योंकि जब भी ये लक्षण आपको दिखाई दें तो तुरंत डॉक्टर से सम्पर्क किया जा सके। आइए इसके बारे में जानते हैं।

विटामिन बी12 की कमी के मुख्य कारण

शरीर में विटामिन बी12 की कमी निम्न कारणों से हो सकती हैः-

उचित मात्रा में अवशोषण न होना

आप जिन आहार का सेवन करते हैं उससे शरीर में विटामिन बी12 का अवशोषण होता है। अगर शरीर सही तरह से विटामिन बी12 का अवशोषण नहीं कर पा रहा है तो इसकी कमी हो सकती है।

पर्याप्त आहार का सेवन न करना

विटामिन बी12 युक्त आहार का पर्याप्त मात्रा में सेवन न करने से भी इसकी कमी हो सकती है।

शाकाहारी लोगों को हो सकती है कमी

चिकित्सकों के अनुसार, शाकाहारी आहार की तुलना में मांसाहारी आहार में विटामिन बी12 प्रचुर मात्रा में होता है। इसलिए अगर शाकाहारी भोजन करने वाले लोग पर्याप्त मात्रा में विटामिन बी12 युक्त आहार का सेवन न करें तो इसकी कमी होने की संभावना रहती है।

विटामिन बी12 की कमी के मुख्य लक्षण

जब शरीर में विटामिन बी12 की कमी हो जाती है तो शुरुआती दौर में इसके लक्षण पहचान में नहीं आते। जब लोगों को इससे संबंधित परेशानियां होनी शुरू होती हैं तब जांच कराने के बाद इसकी कमी का पता चलता है। इसलिए इसके लक्षण की जानकारी होनी जरूरी है।

गर्भवती महिलाओं का अस्वस्थ होना

इसकी कमी से गर्भवती महिलाएं प्रायः स्वास्थ्य संबंधित कई तरह की परेशानियां से जूझती रहती हैं। उनका स्वास्थ्य खराब हो सकता है। इसलिए गर्भकाल के दौरान इसकी जांच जरूर करानी चाहिए।

अधिक तनाव या चिंता करना

जिसको विटामिन बी12 की कमी होती है वे स्वस्थ व्यक्ति की तुलना में तनाव या चिंता से जल्द प्रभावित हो सकते हैं।

आंखों की रोशनी में कमी

अगर आपको यह महसूस होने लगे कि आपको आंखों की रोशनी संबंधित परेशानी हो रही है तो तुरंत डॉक्टर से सम्पर्क करें, क्योंकि विटामिन बी12 की कमी के कारण भी आंखों से संबंधित विकार भी होते हैं।

थकान और अंगों में कमजोरी

शारीरिक कमजोरी और थकान, विटामिन बी12 की कमी के संकेत हैं।

भूख की कमी और कब्ज

विटामिन बी12 की कमी के कारण भूख में कमी आती है और कब्ज जैसी समस्याओं का भी सामना करना पड़ सकता है।

विटामिन बी12 की कमी से होने वाली बीमारियां

विटामिन बी12 की कमी से कई बीमारियां हो सकती हैं। इनमें से कुछ बीमारियों का इलाज तो आसानी से कराया जा सकता है, लेकिन कुछ रोग ऐसे भी हैं जो बहुत ही गंभीर होते हैं। इन गंभीर बीमारियों के कारण मरीज को बहुत अधिक परेशानियां झेलनी पड़ सकती हैं।

एनीमिया

विटामिन बी12 से होने वाली कई गंभीर बीमारियों में से एक एनीमिया है। जरूरी बात ये है कि अगर समय पर पता लगाकर जांच नहीं कराया गया तो एनीमिया मरीज के लिए घातक सिद्ध हो सकता है।

हड्डियों से संबंधित बीमारी

शोध के अनुसार, इसकी कमी से हड्डी से संबंधित कई रोग हो सकते हैं, जैसे कमर और पीठ में दर्द की शिकायत हो सकती है।

डिमेंशिया (विक्षिप्त अवस्था)

वास्तव में, विटामिन बी12 की कमी से मस्तिष्क की कार्यप्रणाली को काफी नुकसान पहुंच सकता है, जिससे कई तरह की मानसिक बीमारियां हो सकती है। ऐसी ही एक बीमारी है डिमेंशिया। यह एक गंभीर बीमारी है जिसमें मरीज की दिमागी हालत ठीक नहीं रहती, और वह सोचने-समझने लायक भी नहीं रहता। रोगी विक्षिप्त अवस्था में भी पहुंच सकता है।

भूलने की बीमारी का कारण विटामिन बी12 की कमी

यह बीमारी विटामिन बी12 की कमी के कारण भी हो सकती है, लेकिन अक्सर देखा जाता है कि ऐसी मानसिक बीमारी को लोग प्रायः गंभीरता से नहीं लेते, जिससे रोगी को बहुत नुकसान पहुंच सकता है। इसलिए अगर किसी व्यक्ति को ऐसे लक्षण बार-बार महसूस होने लगे तो डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए।

तंत्रिका-तंत्र को स्थाई क्षति

इसकी कमी से तंत्रिका-तंत्र को बहुत अधिक क्षति पहुंच सकती है। डॉक्टर के अनुसार, मरीजों को इससे होने वाले नुकसान को जीवन भर झेलना पड़  सकता है।

गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को नुकसान

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ न्यूट्रिशन (एनआईएन) के अनुसार, गर्भवती महिलाएं या स्तनपान कराने वाली माताएं, जो पर्याप्त मात्रा में मांसाहारी आहार का सेवन नहीं करती हैं, या केवल शाकाहारी आहार पर ही आश्रित हैं, उनको विटामिन बी12 की कमी हो सकती है। अगर सही समय पर इसकी जांच नहीं कराई गई तो इससे शिशु को भी नुकसान हो सकता है।

महिलाओं में अस्थाई बांझपन

विटामिन बी12 की कमी से महिलाओं को अस्थाई बांझपन की परेशानी हो सकती है। हालांकि यह अन्य कारणों से भी हो सकता है। इसलिए ऐसी स्थिति में जांच कराना जरूरी है।

पेट या क्रॉन रोग

पेट से संबंधित बीमारियां विटामिन बी12 की कमी के कारण भी हो सकता है। इसी तरह क्रॉन रोग के कारण भी शरीर में विटामिन बी12 की कमी हो सकती है।

सर्जरी के बाद कम हो सकता है विटामिन बी12

एनआईएन के अनुसार, लोग कई प्रकार की सर्जरी कराते हैं जैसे- वजन कम करने के लिए कराई गई सर्जरी या अन्य सर्जरी। कई सर्जरी में कुछ अंगों को शरीर से हटाया जाता है। इसके कारण शरीर में लाल रक्त कोशिकाएं कम हो जाती हैं, और यह विटामिन बी12 की कमी का कारण बन सकता है। इसलिए ऐसे लोगों सर्जरी के बाद अपने खान-पान पर अधिक ध्यान देना चाहिए।

त्वचा में संक्रमण

विटामिन बी12 की कमी से व्यक्ति की त्वचा बीमार हो सकती है। त्वचा में संक्रमण हो सकता है। घावों को भरने में देरी हो सकती है। इसके साथ-साथ नाखून सहित कई अंगों में पीला-पन सा आने लगता है।

अब आपको विटामिन बी12 की कमी और उसके लक्षण की जानकारी मिल गई है। इसलिए आपके शरीर में इसकी कमी न हो इसके लिए विटामिन बी12 से युक्त आहार का सेवन जरूर करें। ध्यान रहे कि इसके सप्लीमेंट्स के सेवन करने से पहले डॉक्टर से परामर्श जरूर लें।

संबंधित पोस्ट

फिर बना बहरूपिया कोरोना वायरस , नया वेरिएंट ही दूसरी लहर का कारण था

Hindustanprahari

जीआई से पीड़ित 17 वर्षीय एक लड़के का वॉकहार्ट अस्पताल में सफलतापूर्वक इलाज

Hindustanprahari

विटामिन सी है क्यों जरूरी

Hindustanprahari

EMN ने बताई वजह – आखिर क्यों नहीं मिल रहा कोविशील्ड को यूरोप का ‘वैक्सीन पासपोर्ट’?

Hindustanprahari

कैसे पाएं डिप्रेशन से मुक्ति

Hindustanprahari

जल्द ही सरकार मुफ्त में लगाएगी स्पूतनिक वी का टीका

Hindustanprahari