ब्रेकिंग न्यूज़
राजनीति

‘कांग्रेस से मुक्ति पाए जनता, भलाई इसी में है’: मायावती

 

‘कांग्रेस से मुक्ति पाए जनता, भलाई इसी में है’ , पंजाब बिजली सकंट पर मायावती का हमला

मायावती की यह टिप्पणी ऐसे में आई है जब पंजाब में सियासी खींचतान जारी है. पंजाब में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू के बीच रार पहले से छिड़ी हुई.

मायावती ने कांग्रेस सरकार पर साधा निशाना

पंजाब में बिजली संकट के मसले पर घिरी कांग्रेस

पंजाब में बिजली संकट के बीच बसपा सुप्रीमो मायावती ने पंजाब की कांग्रेस सरकार पर निशाना साधा है. मायावती ने ट्वीट कर लिखा है, ”पंजाब में बिजली के गंभीर संकट से आमजन-जीवन, उद्योग-धंधे व खेती-किसानी आदि बुरी तरह से प्रभावित, जो यह साबित करता है कि वहाँ की कांग्रेस सरकार आपसी गुटबाजी, खींचतान व टकराव आदि में उलझकर जनहित व जनकल्याण की ज़िम्मेदारी को तिलांजलि दे चुकी है, जिसका जनता को संज्ञान लेना ज़रूरी.”

एक  अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा है, ”अतः पंजाब के बेहतर भविष्य व राज्य में वहाँ के लोगों की भलाई इसी में निहित है कि वे कांग्रेस पार्टी की सरकार से मुक्ति पाएं तथा आगामी विधानसभा आमचुनाव में शिरोमणि अकाली दल व बी.एस.पी. गठबंधन की पूर्ण बहुमत वाली लोकप्रिय सरकार बनाना सुनिश्चित करें, ऐसी मेरी सभी से गुज़ारिश.”

मायावती की यह टिप्पणी ऐसे में आई है जब पंजाब में सियासी खींचतान जारी है. पंजाब में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू के बीच रार पहले से छिड़ी हुई. इस बीच सिद्धू ने अपनी ही पार्टी पर निशाना साधा है. सियासी खींचतान और बिजली संकट के बीच यह बात सामने आई है कि सिद्धू ने खुद अपने घर का बिजली का बिल लंबे समय से नहीं चुकाया है. जानकारी के मुताबिक, नवजोत सिंह सिद्धू ने पिछले करीब नौ महीने से अपने घर का बिल नहीं भरा है. उनपर कुल 8 लाख, 67 हजार और 540 रुपये बकाया है.

पंजाब में मुफ़्त बिजली देने के वादे पर केजरीवाल को विरोधियों ने घेरा, AAP ने दी सफाई

बता दें कि उत्तर भारत में पिछले करीब एक हफ्ते से भीषण गर्मी पड़ रही है. इस बीच पंजाब में बिजली कटौती हो रही है, जिससे लोग परेशान हैं. इसी बीच पंजाब सरकार ने दफ्तरों में चल रहे एसी के कम और तय मात्रा में उपयोग की बात कही है. जिसके बाद नवजोत सिंह सिद्धू ने इसे मुद्दा बना दिया. कांग्रेस में आपसी रार के बीच बिजली संकट को लेकर बयानबाजी के बीच विपक्ष ने भी कांग्रेस सरकार पर निशाना साधना शुरू कर दिया है. इस बीच मायावती ने पंजाब सरकार पर निशाना साधते हुए लोगों से  शिरोमणि अकाली दल व बी.एस.पी. गठबंधन को पूर्व बहुमत देने की अपील की है.
बिजली संकट पर कैप्टन को घेरने वाले सिद्धू ने खुद नहीं भरा अपना बिल, 8 लाख से ज्यादा बकाया

पंजाब में ‘पावर कट’ पर अमरिंदर के खिलाफ खुलकर सामने आए सिद्धू, दागे ताबड़तोड़ सवाल

संबंधित पोस्ट

देवेंद्र फडणवीस ने सुनील राणे के बोरीवली भाजपा कार्यालय, स्वामी विवेकानंद पुस्तकालय और कला केंद्र का उद्घाटन किया

Hindustanprahari

मालाड पूर्व जलाशय टेकड़ी से कांदिवली लोखंडवाला संकुल तक प्रलंबित मार्ग होगा प्रशस्त

Hindustanprahari

अवनीश तीर्थराज सिंह द्वारा आयोजित उत्तर भारतीय स्नेह सम्मेलन में पधारे भाई जगताप

Hindustanprahari

“अब कोई महिला भाजपाई कौरवनीति से नहीं डरने वाली” : प्रियंका गाँधी

Hindustanprahari

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत को लेकर बीजेपी उलझन में फंसी

Hindustanprahari

देवेंद्र फडणवीस से मिले भाजपा मुम्बई बिहार प्रकोष्ठ के पदाधिकारी

Hindustanprahari