ब्रेकिंग न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़

करोड़ों का रेस ट्रैक बना पवार समेत कई नेताओं की कारों का पार्किंग

VVIP कल्चर की भेंट चढ़ा करोड़ों का रेस ट्रैक:पुणे में शरद पवार समेत कई नेताओं की कारों के काफिले को सिंथेटिक रेस ट्रैक पर खड़ा किया गया, सरकार की सफाई-पवार साहब के पैर में थी चोट

ट्रैक पर खड़ी कारों की तस्वीरें कुछ लोगों ने खीचीं और सोशल मीडिया में अपलोड कर दीं, जिसके बाद इस मामले ने काफी तूल पकड़ लिया।

महाराष्ट्र के पुणे में फिर एक बार VVIP कल्चर की धमक देखने को मिली है। यहां के शिव छत्रपति स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स यानी बालवाड़ी स्टेडियम में एथलीट्स के लिए बने सिंथेटिक रेस ट्रैक पर कई कारों को चलाया और खड़ा किया गया। इनमें से एक कार में NCP चीफ शरद पवार भी सवार थे। रेस ट्रैक पर स्पाइक्स शूज के अलावा अन्य शूज पहनकर जाने की भी मनाही होती है। ऐसे में कई कारों को उस पर चलाने से ट्रैक को बड़ा नुकसान हो सकता है। फिलहाल नुकसान का आकलन किया जा रहा है।

26 जून को इस ट्रैक पर इंटरनेशनल स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी का एक कार्यक्रम था। इस दौरान शरद पवार, खेल मंत्री सुनील केदार, आदित्य ठाकरे समेत कई बड़े नेता पहुंचे थे। नेताओं ने अपनी कारों को रेस ट्रैक पर ही खड़ा कर दिया। इसकी तस्वीरें कुछ लोगों ने सोशल मीडिया परअपलोड कर दीं, जिसके बाद इस मामले ने तूल पकड़ लिया।

स्मृति ईरानी ने कहा- जी हुजूरी की भेट चढ़ा करोड़ों का ट्रैक
केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने सोशल मीडिया में कहा, ‘महाराष्ट्र में स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में हुई एक बैठक के कारण करोड़ों की लागत से बना एथलेटिक्स ट्रैक जी हुजूरी की भेंट चढ़ गया। खिलाड़ियों के सुविधाओं को सुदृढ़ करने की बजाय महाराष्ट्र के खेल मंत्री स्वयं व्यवस्था को बिगाड़ने में लगे हुए हैं।’

केंद्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजू ने कहा कि हमारे देश में खेल सुविधाएं कम हैं। ऐसे में सभी खेल केंद्रों को उचित देखभाल की जरूरत है।

रेस ट्रैक पर करीब 10-12 कारों का काफिला चलाया गया। अब इससे हुए नुकसान का आकलन किया जा रहा है।

महाराष्ट्र सरकार की इस मामले में सफाई
VVIP कारों को खड़ा किए जाने को लेकर महाराष्ट्र स्पोर्ट्स कमिश्नर ओम प्रकाश बकोरिया ने सफाई दी है। उन्होंने कहा कि शरद पवार के पैर में चोट लगी थी, इसीलिए उनकी कार को वहां पार्क करने की परमिशन दी गई थी। जिससे उन्हें ज्यादा चलना न पड़े। दुर्भाग्य से वाहन रेस ट्रैक पर खड़े हो गए। इसके लिए वे माफी मांगते हैं। इसके साथ ही उन्होंने आश्वासन दिया कि इस तरह की घटना दोबारा नहीं होगी।

भाजपा की मांग- मामले की जांच हो
स्थानीय BJP विधायक सिद्धार्थ शिरोले ने कहा कि महाविकास अघाड़ी नेताओं को इस लापरवाही के लिए माफी मांगनी चाहिए। साथ ही इस मामले की निष्पक्ष जांच की जानी चाहिए।

इस स्टेडियम में कई बड़े अंतरराष्ट्रीय आयोजन हुए हैं

शिव छत्रपति स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में 1994 में नेशनल गेम्स और 2008 में काॅमनवेल्थ यूथ गेम्स हुए थे। 2019 में खेलो इंडिया यूथ गेम्स को भी यहां से शुरू किया गया था। इसके अलावा फुटबॉल, कबड्डी और क्रिकेट के कई बड़े मैच यहां हो चुके हैं। इस एथलेटिक्स स्टेडियम में 11,000 लोगों के बैठने की क्षमता है। फ्लड लाइट्स से लैस यहां का एथलेटिक्स ट्रैक 8 लेन का है। 2012 में लंदन ओलंपिक के लिए फुटबाल का क्वालिफाइंग राउंड इसी कॉम्प्लेक्स में खेला गया था।

संबंधित पोस्ट

शेर नगर में इमारत के खस्ताहाल बाउंड्री वॉल का होगा दुरुस्तीकरण

Hindustanprahari

Hindustan Prahari e-paper 9 Aug to 15 Aug 2022

Hindustanprahari

वो पाकिस्तान समर्थित विचारों वाले हैं – जितिन प्रसाद

Hindustanprahari

सान म्यूजिक SSAN MUSIC की प्रस्तुति ‘इश्क़ की राह पे’ म्यूजिक वीडियो में रेखा राव, अनारा गुप्ता और कुमार गौतम

Hindustanprahari

सिंगर संदीप की ‘राइट टू लेफ्ट’ अलबम रिलीज, मिलियन व्यूज पार

Hindustanprahari

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर प्रोजेक्ट ‘अस्तित्व’ की घोषणा

Hindustanprahari