ब्रेकिंग न्यूज़
हेल्थ

अपोलो ने किया स्वास्थ्य सेवा कर्मियों को समर्पित पाठ्य पुस्तक का अनावरण

अपोलो ने कोविड-19 पर ‘व्यापक पाठ्यपुस्तक’ का अनावरण किया।

दुनिया भर के हज़ारों स्वास्थ्य सेवा कर्मियों को समर्पित, जो मानवता की सेवा करते हुए वायरस का शिकार हो गए

नवी मुंबई : अपोलो हॉस्पिटल ने आज कोविड-19 पर अपनी तरह की पहली व्यापक पाठ्यपुस्तक का अनावरण किया। इस पुस्तक को डॉ एम एस कंवर (सीनियर कन्सलटेन्ट, डिपार्टमेन्ट ऑफ पल्मोनरी क्रिटिकल केयर एण्ड स्लीप मेडिसिन, इन्द्रप्रस्थ अपोलो हॉस्पिटल्स) द्वारा लिखा और संपादित किया गया है। उनके साथ 79 अन्य सह-लेखकों का योगदान भी रहा है, जिनमें विभिन्न स्पेशलटीज़ से सीनियर हेल्थकेयर प्रोफेशनल्स शामिल हैं। इस पुस्तक को डॉ कंवर द्वारा लिखा और संपादित किया गया है। उनके साथ 79 अन्य सह-लेखकों का योगदान भी रहा है, जिनमें विभिन्न स्पेशलटीज़ से सीनियर हेल्थकेयर प्रोफेशनल्स शामिल हैं। जो पिछले एक साल के दौरान मरीज़ों की देखभाल जारी रखते हुए पुस्तक के लिए कड़ी मेहनत करते रहे। यह पुस्तक एमज़ॉन पर खरीद के लिए उपलब्ध है।

यह व्यापक पाठ्यपुस्तक दुनिया भर में स्वास्थ्यसेवा कर्मियों के लिए कोविड केयर में क्रान्तिकारी बदलाव लाएगी, क्योंकि इसमें कोविड-19 के लक्षण, आधुनिक उपचार एवं प्रयोगात्मक थेरेपियों का विवरण दिया गया है। विश्व स्वास्थ्य संगठन की नई रिपोर्ट्स से जुटाए गए वैज्ञानिक आंकड़ों, सांख्यिकी रूझानों तथा दुनिया भर में कोविड-19 से सबसे ज़्यादा प्रभावित होने वाले देशों की राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवाओं द्वारा जारी परामर्शों के आधार पर यह पुस्तक लिखी गई है। इस पुस्तक में न केवल कोविड केयर में आने वाली चुनौतियों बल्कि कोविड वैक्सीनेशन, कम इम्युनिटी वाले मरीज़ों के कोविड उपचार, अन्य बीमारियां से ग्रस्त कोविड मरीज़ों के उपचार तथा कोविड के कारण कार्डियोवैस्कुलर, एंडोक्राइनल, रीनल एवं पीडिएट्रिक स्वास्थ्य समस्याओं पर भी विस्तृत जानकारी दी गई है। इस पुस्तक में दिए गए निदान एवं उपचार के तरीकों का विवरण विशेषज्ञ एवं रेज़ीडेन्ट डॉक्टरों तथा मेडिकल छात्रों के लिए बेहद उपयोगी होगा। इंटर्न से लेकर क्रिटिकल केयर स्पेशलटी एवं सभी मेडिकल एवं सर्जिकल स्पेशलटीज़ के लिए यह पुस्तक बेहद कारगर साबित होगी।

पुस्तक के बारे में बात करते हुए डॉ एम एस कंवर (सीनियर कन्सलटेन्ट, डिपार्टमेन्ट ऑफ पल्मोनरी, क्रिटिकल केयर एण्ड स्लीप मेडिसिन, अपोलो हॉस्पिटल्स) ने कहा, ‘‘कोविड महामारी पिछले 100 सालों में मानवता पर सबसे बड़ा अप्रत्याशित संकट था। पिछले एक साल से भी अधिक समय से हम कोविड-19 से जंग लड़ रहे हैं और हर दिन हमें कुछ नया सीखने को मिलता है। अपने मरीज़ों को सर्वश्रेष्ठ कोविड देखभाल उपलब्ध कराने के लिए स्वास्थ्यसेवा संगठनों और कर्मचारियों ने हर दिन बेहतर करने की कोशिश की है। हर माह कोविड प्रबन्धन के लिए नए निर्देशों और नए तौर-तरीकों को अपनाते रहने के बाद हमें महसूस हुआ कि स्वास्थ्यसेवा कर्मचारियों को कोविड से जुड़े विभिन्न पहलुओं जैसे साईड-इफेक्टस, लम्बे समय तक चलने वाली स्वास्थ्य समस्याओं और वैक्सीनेशन के बारे में जानकारी देनी चाहिए। इस नोवल वायरस ने पूरी दुनिया में दहशत का माहौल बना दिया है, खासतौर पर स्वास्थ्य सेवा कर्मियों के लिए यह लड़ाई बहुत मुश्किल रही, जिन्हें शुरूआती दिनों में बीमारी और इसके इलाज के बारे में कोई समझ नहीं थी। यह उनके लिए एक संघर्ष था, जहां वे खुद भी हताहत हो सकते थे। और ऐसा ही हुआ, हज़ारों चिकित्सा कर्मियों को वायरस के कारण अपनी जान गंवानी पड़ी। मुझे उम्मीद है कि यह पुस्तक मरीज़ों और उनके परिवारों के लिए बेहद फायदेमंद होगी, जो भरोसेमंद स्रोत से विस्तृत जानकारी पा सकेंगे।’

संबंधित पोस्ट

जल्द ही सरकार मुफ्त में लगाएगी स्पूतनिक वी का टीका

Hindustanprahari

सारा तेंदुलकर और शुभमन गिल ने एक जैसे कैप्शन के साथ शेयर की तस्वीर, दोनों हो गए ट्रोल

हफ्ते के आखिरी दिन गिरावट के साथ खुले शेयर बाजार, RIL और HDFC के शेयर टूटे

मिल्खा सिंह का सपना पूरा हुआ : नीरज

Hindustanprahari

होल जीनोम सीक्वेंसिंग टीबी रोग के उपचार और नियंत्रण में लाभकारी उपाय

Hindustanprahari

महिलाओं में बढ़ रही ओवेरियन सिस्ट की समस्या

Hindustanprahari